हेलो ट्रैवल के साथ करें अतुल्य भारत की खोज 

मशहूर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ने देश भर में तीन महीने लंबी ट्रैवल कैंपेन हेलो ट्रैवल(Helo Travel) लॉन्च की है। इस अभियान में भारतीय संस्कृति और समुदायों के प्रति जड़ों तक फैली गहरी प्रतिबद्धता जताई गई है। मौजूदा समय में 9 क्षेत्रीय भाषाओं में चलाये जा रहे इस अभियान ने लाखों यूजर्स को इंडिया को हेलो कहने के लिए प्रोत्साहित किया है। हेलो ट्रैवल भारत की समृद्ध सभ्यता और संस्कृति को अपने 5 करोड़ मंथली एक्टिव यूजर्स तक पहुंचाता है।

अब भारतीय लोग देश के बेहतरीन पर्यटन स्थलों की खोज में पहले से ज्यादा दिलचस्पी दिखा रहे हैं। अपनी तरह की यह अनोखी कैंपेन हेलो ट्रैवल देश में मौजूदा ट्रैवल ट्रेंड्स से ज्यादा प्रेरित है। भारत में घूमने वाले 90 फीसदी यात्री स्थानीय होते है। इन भारतीय पर्यटकों को डिजिटल रूप से एक्सपर्ट और काफी मॉडर्न माना जाता है। कंप्यूटर और इंटरनेट पर छुट्टियों में घूमने के लिए पर्यटक स्थलों की जानकारी लेने, छुटिटयों की प्लानिंग करने और किसी खास जगह पर घूमने के लिए टिकट और होटल रूम बुक करने में भारतीय सबसे आगे हैं।

इस कैंपेन का उद्देश्य घूमने-फिरने की स्थानीय जगहों तक सभी लोगों की पहुँच बनाना और डिजिटल रूप से लोगों के बीच उभरी खाई को कम करना है। यह कैंपेन सूचना एकत्रित करने के काम में आने वाली मुश्किलों को कम करती है और यूजर्स को अपनी मातृभाषा में बातचीत कर जरूरी सूचनाएँ लेने के काबिल बनाती हैं।

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर हेलो ट्रेवल (Helo Travel) की कैंपेन को लॉन्चिंग के बाद अब तक 20 करोड़ लोगों ने देखा है। इस कैंपेन में एक ही प्लेटफॉर्म पर यात्रा के असली क्षणों, स्ट्रीट फूड और देश की अलग-अलग स्थानीय और विविधिता पूर्ण संस्कृति की झलक यूजर्स को मिलती है। अमृता खानविलकर, रोहन मेहरा, साधिका वेणुगोपालस किंजल दवे और संजना गलरानी (Amruta Khanvilkar, Rohan Mehra, Sadhika Venugopal, Kinjal Dave, and Sanjjiana Galrani)जैसी लोकप्रिय सिलेब्रिटीज इस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से जुड़कर लीड रोल में अपनी भूमिका निभा रहीं हैं। इस कैंपेन से सभी यूजर्स  #हेलो ट्रेवल, #हेलो राजस्थान, #हेलो कर्नाटक, #हेलो महाराष्ट्र, #हेलो उत्तर प्रदेश, #हेलो केरल, #हेलो गुजरात और #हेलो दिल्ली के हैशटेग के साथ जुड़ सकते हैं।

हेलो सभी लोगों को एक प्लेटफॉर्म पर ले आया है। यह लोगों को अपनी भाषा में बड़ी संख्या में लोगों के साथ जुड़ने, अपनी भाषा में कंटेंट क्रिएट करने और शेयर करने की इजाजत देता है। हिंदी के साथ तमिल, तेलुगु, मराठी, मलयालम, कन्नड़, गुजराती, पंजाबी और बंगाली भाषाएँ बोलने वाले समुदाय को इस प्लेटफॉर्म पर हिस्सा लेने के लिए आमंत्रित किया गया है।

हेलो के बारे में

दुनिया भर के लोगों का स्थानीयता से परिचय कराने के लिए बनाया गया यह एक प्रमुख सोशल मीडया प्लेटफॉर्म है। हेलो का मिशन सभी लोगों को साथ आने, उन्हें अपनी भाषा में कॉन्टेंट बनाने और उसे शेयर करने के लिए मजबूत  बनाना है, जिससे उनका एक बड़े समुदाय के लोगों से कनेक्शन जुड़ता है। हिंदी तेलुगु, तमिल और मलयालम के साथ यह 14 भाषाओं में उपलब्ध है। यह 2018 में गूगल प्लेस्टोर से सबसे ज्यादा डाउनलोड की गई टॉप ऐप्स में से एक था। हेलो आईओएस और एंड्रॉयड पर अमेरिका, कनाडा, सिंगापुर, मलेशिया, सऊदी अरब, यूएई, ओमान, कुवैत, कतर, नेपाल, श्रीलंका, दक्षिण अफ्रीका और बांग्लादेश में भी उपलब्ध हैं। अधिक जानकारी के लिए www.helo-app.com पर जाएं।

 

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.