राष्ट्रवादी के विधायक जहां रुके है वहां घुसे सिविल ड्रेस में पुलिस अधिकारी, बाद में वापस भेजे गए 

मुंबई : एन पी न्यूज 24 – राज्य के राजनीतिक घटनाक्रम में तेज़ी आने के बाद राजनीतिक वातावरण गर्म हो गया है. भाजपा की तरफ से तोड़फोड़ की कोशिश होने की संभावना है. इसलिए शिवसेना, …

Police
मुंबई : एन पी न्यूज 24 – राज्य के राजनीतिक घटनाक्रम में तेज़ी आने के बाद राजनीतिक वातावरण गर्म हो गया है. भाजपा की तरफ से तोड़फोड़ की कोशिश होने की संभावना है. इसलिए शिवसेना, कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस ने अपने अपने विधायकों को होटल में शिफ्ट कर दिया है. इन विधायकों पर पार्टी के सीनियर नेताओं ने नज़र बनाये रखी है. राष्ट्रवादी के विधायक होटल रेनेसा में रुके है जहां उन पर नज़र रखी जा रही हैं. यहां पर एक पुलिस अधिकारी के साथ विधायक जीतेन्द्र अव्हाड और राष्ट्रवादी के कार्यकर्ता जुटे हुए है. इस मौके पर पुलिस अधिकारी ने जीतेन्द्र अव्हाड से पूछा कि क्या केवल टाइमपास करना है क्या ? हमें यही समझ रखा है?
विधायकों को तोड़ने की कोशिश का आरोप 
राष्ट्रवादी कांग्रेस के विधायकों को रेनेसा होटल में ठहराया गया है. इस मौके पर सिविल ड्रेस में आये एक पुलिस अधिकारी के साथ जीतेन्द्र अव्हाड के बीच हुई बहस का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. फडणवीस सरकार विधायकों को तोड़ने के लिए पुलिस की मदद लेने का आरोप विधायक जीतेन्द्र अव्हाड ने लगाया है. होटल में सिविल ड्रेस में आये पुलिस अधिकारी को जीतेन्द्र अव्हाड और कार्यकर्ताओं ने होटल से वापस भेज दिया।
होटल रेनेसा में रुके है एनसीपी के विधायक 
होटल रेनेसा में राष्ट्रवादी के विधायकों को रखा गया हैं. यहां शिवसेना और राष्ट्रवादी के नेताओं ने नज़र बनाये रखी है. रविवार को होटल पोर्च में कुछ पुलिस अधिकारी सिविल ड्रेस में बैठे थे. यह ध्यान आने के बाद राष्ट्रवादी के कार्यकताओं ने इसकी जानकारी जीतेन्द्र अव्हाड और श्रीकांत शिंदे को दी. अव्हाड ने पोर्च में आकर उनसे पूछताछ की और उन्हें अपनी पहचान बताने को कहा. इसके उन लोगों ने अपना पहचान पत्र दिखाया।
हमें क्या बेवकूफ समझ रखा है 
पहचान पत्र देखने के बाद जीतेन्द्र अव्हाड ने संबंधित अधिकारियों को कहा कि इतने सीनियर अधिकारी आकर बैठते है क्या ? हमें क्या बेवकूफ समझ रखा है? क्या आपका यहां काम हैं ? इसके बाद सिविल ड्रेस में बैठे पुलिस अधिकारी वहां से चले गए.
विधायकों को तोड़ने के लिए पुलिस की मदद 
लेकिन इस घटना का वीडियो एक कार्यकर्ता ने बना लिया। यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया है. विधायकों को तोड़ने के लिए पुलिस की मदद लेने की चर्चा हर तरफ होने लगी है.
visit : npnews24.com

Leave a comment