कोरोना मामले में इटली से आगे निकला भारत, सिर्फ 4 देश से पीछे है हम, हो सकती है खतरे की घंटी

नई दिल्ली :  एन पी न्यूज 24 – भारत में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे है। पिछले 24 घंटे में 5,609 मामले सामने आए हैं और 132 लोगों की मौत हो गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार देश में 112359 मामले सामने आ गए हैं। इनमें से 63624 एक्टिव केस हैं। अब तक 3435 लोगों की मौत हो चुकी है। अगर देश में एक्टिव कोरोना केस की बात करें तो हम इटली से आगे निकल गए हैं। अब दुनिया में सिर्फ 4 देश ही ऐसे हैं, जहां कोविड-19 के एक्टिव केस भारत से ज्यादा हैं।

कोरोना मामले में इटली से आगे निकला भारत –
एक नामी वेबसाइट के मुताबिक, भारत में बुधवार रात 11.30 बजे तक कोविड-19 के कुल केस 111,750  हो चुके थे। पिछले एक सप्ताह में भारत में लगभग रोज 5 हजार के करीब केस बढ़ रहे हैं। जिसके बाद अब भारत में कोरोना के एक्टिव केस 63624 हो गए हैं। एक दिन पहले यह 59 हजार के करीब था।  भारत ने पिछले दो दिन में एक्टिव केस के मामले में इटली और पेरू को पीछे छोड़ दिया है। बता दें कि इटली में 62,752 और पेरू में 60,045 केस हैं।

एक रिपोर्ट के मुताबिक, इटली में 2.27 लाख और पेरू में 99,450 कोविड-19 के मरीज हैं।  इटली में इस वायरस के कारण 32,330 लोगों की जान गई है।  हालांकि, अब वहां इसका कहर कम हो रहा है। इटली में अब तक 132,282 लोग कोविड-19 को हराकर स्वस्थ हो चुके हैं। पेरू में 2914 लोग मारे गए हैं, जबकि करीब 36 हजार स्वस्थ हो चुके हैं। भारत में करीब 3,400 लोग कोविड-19 की वजह से जान गंवा चुके हैं।

अमरीका में अब भी मचा हुआ है हाहाकार –
वहां कुल 15.78 लाख लोग कोरोना के संक्रमण में आए। इनमें से 11.19 लाख अब भी एक्टिव केस के दायरे में हैं। करीब 3.65 लाख लोग स्वस्थ हो चुके हैं। अमेरिका में कोरोना की वजह से 94 हजार से अधिक लोगों की जान जा चुकी है।

सिर्फ 4 देश से पीछे है हम –
एक्टिव केस के मामले में रूस दूसरे, ब्राजील तीसरे और फ्रांस चौथे स्थान पर है। रूस में 220,341 एक्टिव केस हैं। ब्राजील में 150,458 और फ्रांस में 90,224 केस हैं। दुनिया में अमेरिका, रूस, ब्राजील और फ्रांस ही ऐसे देश हैं, जहां भारत से ज्यादा एक्टिव केस हैं। दुनिया में कोरोना से पीडि़त लोगों की आबादी आधी करोड़ को पार कर गई है। इनमें से 3.27 लाख लोगों की मौत हो चुकी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.