पिंपरी चिंचवड़ में कोरोना के मरीजों की संख्या हुई 85

6 दिनों में 11 मरीज कोरोना मुक्त; अब तक 24 मरीजों को मिला डिस्चार्ज

पिंपरी। एन पी न्यूज 24 – वैश्विक महामारी कोरोना का पिंपरी चिंचवड़ शहर में प्रकोप कायम है। गत दो दिनों में शहर में इस महामारी के 15 मरीज मिलने के बाद रविवार को एक और मरीज मिलने से शहर में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 85 हो गई है। शुक्रवार को एक ही दिन में तीन साल की दो बच्चियों सहित पांच महिलाओं समेत 12 मरीज पाए गए। शनिवार को लगातार दूसरे दिन दो बुजुर्ग महिला और एक 52 वर्षीय पुरूष नए से कोरोना ग्रस्त पाए गए हैं। रविवार को भी पॉजिटिव मरीज मिलने का सिलसिला जारी रहा। आज मोशी निवासी एक 19 साल की युवती कोरोना ग्रस्त पायी गई है।
कोरोना ग्रस्तों के बढ़ते आंकड़ों से रेडजोन में शामिल पिंपरी चिंचवड़ शहर में शनिवार को एक राहतभरी खबर आई है। 14 दिनों के इलाज के बाद दोनों रिपोर्ट निगेटिव मिलने से आज तीन और मरीज कोरोना मुक्त हुए हैं। उन्हें आज अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।हालांकि एक और मरीज की पहली रिपोर्ट पॉजिटिव मिलने से प्रशासन की चिंता बढ़ गई है। इससे पहले भी 14 दिन के इलाज के बाद एक मरीज की पहली रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है। विगत 6 दिनों से 11 लोग कोरोना मुक्त हुए हैं। इसके बाद पिंपरी चिंचवड़ शहर में कोरोना मुक्त हुए लोगों की संख्या 24 हो गई है। गत 18 दिनों में शहर में कोरोना ग्रस्तों की संख्या 65 से बढ़ गई है।
पिंपरी चिंचवड़ शहर में अब तक मिले 85 में से कुल 24 मरीज कोरोना मुक्त हुए हैं। जबकि चार मरीज़ों की मौत हो चुकी है। हालांकि इसमें एक 40 वर्षीय महिला पुणे के मार्केटयार्ड की निवासी थी और वह कोरोना के इलाज के लिए रविवार को पिंपरी मनपा के वाईसीएम हॉस्पिटल में दाखिल कराई गई थी, जिसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। ताजा मामला शुक्रवार का है, निगड़ी ओटा स्किम निवासी एक कोरोना ग्रस्त मरीज की मौत हुई है। 10 मार्च से अब तक शहर में कोरोना से संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 85 तक पहुंच गया है। फिलहाल मनपा के अस्पतालों में 49 मरीजों का इलाज चल रहा है जबकि पुणे के अस्पतालों में पिंपरी चिंचवड़ के 9 मरीजों का इलाज चल रहा है। इसके अलावा पिंपरी चिंचवड़ में पुणे शहर के दो और जिले के बाहर के एक मरीज का इलाज जारी है। मनपा प्रशासन द्वारा लोगों से अपील की गई है कि वे बेवजह घरों से बाहर न निकलें। जरूरत के अनुसार घरों से बाहर निकलते वक्त मास्क या रुमाल से मुंह, नाक ढंकें बिना न निकलें।
Leave A Reply

Your email address will not be published.