लातुर में फंसे महानुभाव पंथ के 1341 अनुयायी पहुंचे पुणे

पुणे। एन पी न्यूज 24 – लॉकडाउन के कारण लातूर स्थित एक आश्रम में फंसे महानुभाव पंथ के 1341 अनुयायी बीती रात पुणे में दाखिल हो गए। बेमौसम बरसात से उक्त आश्रम के क्षतिग्रस्त होने के बाद राज्य सरकार ने एक विशेष आदेश जारी कर इन अनुयायियों को पुणे भेजने का प्रबंध किया। इसके अनुसार 40 बसों में सवार होकर 1341 अनुयायी गत रात पुणे पहुंचे। उन्हें जुन्नर के एक आश्रम में पहुंचाया गया औऱ सोशल डिस्टन्टिंग का अनुपालन करने की हिदायत दी गई।
महानुभाव पंथ के अनुयायी मराठवाड़ा क्षेत्र में लातूर जिले की निलंगा तहसील में स्थित आश्रम में 26 फरवरी को गए थे। हालांकि, वे लॉकडाउन के कारण पुणे जिले के मुख्य आश्रम में नहीं लौट पाए थे। इसी बीच, निलंगा में तेज बारिश और आंधी के कारण आश्रम क्षतिग्रस्त हो गया था और उसमें रह रहे लोगों के लिए संकट उत्पन्न हो गया था। इसके चलते उन्हें पुणे भेजने के लिए राज्य सरकार ने एक विशेष आदेश जारी किया। इसके बाद उन्हें पुणे पहुंचाया गया।
आपदा प्रबंधन, सहायता एवं पुनर्वास विभाग ने बेमौसम बारिश के कारण आश्रम को हुए नुकसान को देखते हुए एक विशेष आदेश द्वारा 17 अप्रैल को लातूर जिला प्रशासन को निर्देश दिया था कि ‘महानुभाव पंथ’ के सभी 1341 अनुयायियों को जुन्नर स्थित देवदत्त आश्रम में स्थानांतरित किया जाए और इस दौरान सामाजिक दूरी का ध्यान रखा जाए। पुणे ग्रामीण पुलिस के अनुसार सभी अनुयायियों को 40 से अधिक बसों में रविवार को जुन्नर में जाधववाड़ी स्थित श्री देवदत्त आश्रम लाया गया।
Leave A Reply

Your email address will not be published.