केमिकल के सिर्फ छीटें पड़े थे, दबंग ने मुंह में घुसा दी सैनिटाइनजर मशीन की पाइप, और हलक में उड़ेल दिया सारा जहर

रामपुर. एन पी न्यूज 24 – उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद से 27 किलोमीटर दूर रामपुर में शर्मसार कर देने वाली घटना हुई है। दरअसल, शुक्रवार को कोरोना के एक कर्मवीर की हत्या की खबर इलाके में फैली। पता चला है कि उसका दोष सिर्फ इतना था कि उसके हाथ से सैनिटाइजेशन के दौरान एक कथित रसूखदार पर केमिकल की छींटें पड़ गई थीं। ये कर्मवीर अपने सामने खड़े लोगों को समझाता रहा कि जो केमिकल उनके कपड़े पर पड़ा है, वह सैनिटाइजर है, कोई जहर नहीं। पर इन लोगों ने उसकी एक न सुनी और उसकी जान ले ली।

बस, इतनी सी गलती हुई थी : रामपुर के मुतियापुरा गांव के लोगों का कहना है कि 14 अप्रैल को गांव का कुंवर पाल अपने साथी के साथ यहां के प्रेमपुर गांव में सैनिटाइजेशन का काम पूरा करने में लगा था। 21 साल के कुंवर पाल ने अपने इलाके को कोरोना से मुक्त करने की कमान खुद संभाली थी। काम चल ही रहा था कि अचानक गांव का रहने वाला इंद्रपाल कुंवरपाल के सामने पहुंच गया। हड़बड़ी में सैनिटाइजेशन रुक पाता ही कि इंद्रपाल और उसके साथियों पर सैनिटाइजर की कुछ बूंदें गिर गईं। इंद्रपाल ने इसके बाद साथियों के साथ कुंवरपाल पर धावा बोल दिया। कुंवरपाल के हाथ से सैनिटाइजर की मशीन छूट गई और वो हाथ जोड़ते कहता रहा कि साहब, ये तो कोरोना से बचने की दवा है, जहर थोड़े है। गलती हो गई, लेकिन इंद्रपाल ने गुस्से में सैनिटाइजेशन मशीन की पाइप को कुंवरपाल के मुंह में डाल दिया और उसे वो केमिकल पिला डाला। आनन फानन में कुंवरपाल को बिलासपुर के अस्पताल में ले जाया गया। तबीयत में सुधार नहीं हुआ तो एम्बुलेंस के सहारे मुरादाबाद के टीएमयू अस्पताल में भर्ती कराया गया। शुक्रवार को इलाज के दौरान कुंवरपाल की मौत हो गई। उसके परिजन घटना से आहत होकर शव को लेकर भोट थाने पर पहुंचे, जहां पुलिस ने उन्हें समझाकर शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.