नहीं किया लॉकडाउन का पालन, न सोशल डिस्टेंसिंग, आतंकी के अंतिम संस्कार में उमड़े सैकड़ों लोग

बारामुला : एन पी न्यूज 24 –कोरोना वायरस को रोकने के लिए इन दिनों पुरे देश में लॉकडाउन शुरू है। प्रशासन द्वारा लगातार सोशल डिस्टेंसिंग की अपील की जा रही है। लेकिन जम्मू-कश्मीर में इस लॉकडाउन के नियम को धड़ल्ले से उड़ाया गया। दरअसल बुधवार को जम्मू-कश्मीर के बारामुला जिले के सोपोर इलाके में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में मारे गए जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी कमांडर के अंतिम संस्कार में सैकड़ों लोगों शामिल हुए और इस तरह लोगों ने कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन का उल्लंघन किया और सोशल डिस्टेंसिंग का भी ध्यान नहीं रखा।

लिखित तौर पर दिया गया था अंतिम संस्कार के दौरान सामाजिक दूरी का पालन करें –
मारे गए आतंकवादी की पहचान सजाद नवाब डार के रूप में हुई है। उसके अभिभावकों ने मेडिकल कानूनी औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद शव को लेने से पहले लिखित में दिया था कि अंतिम संस्कार के दौरान सामाजिक दूरी का पालन किया जाएगा। लेकिन सभी नियमों की धज्जियां उड़ा दी गईं।

गौरतलब हो कि मंगलवार देर रात को सुरक्षा बलों ने उत्तरी कश्मीर जिले के सोपोर के अरामपोरा इलाके को घेरा और तलाशी अभियान शुरू किया।  इसके बाद आतंकियों ने गोलीबारी और फिर मुठभेड़ शुरू हो गई। इसी में जैश-ए-मोहम्मद का कमांडर सजाद नवाब डार मारा गया।

अंतिम संस्कार में एकत्र हुए लोगों पर मामला दर्ज़ –
मिली जानकारी के मुताबिक, जांच का आदेश दिया गया है और अंतिम संस्कार के समय एकत्र होने वाले व्यक्तियों के खिलाफ संबंधित धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। बता दें कि जम्मू कश्मीर में कोरोना के कुल मामले बढ़ कर 158 हो गए हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.