कोरोना मरीजों के लिए कहीं क्रूज शिप तो कहीं फुटबाल ग्रांउड हो रहें हैं अस्पतालों में तब्दील, 5 स्टार होटल भी बने आइसोलेशन सेंटर

नई दिल्ली: एन पी न्यूज 24 –  पूरी दुनिया में कोरोना ने हाहाकार मचा रखा है. इसके पीड़ितों की संख्या लाखों में पहुंच गई है. कई देशों में तो संक्रमितों की संख्या इतनी तेज गति से बढ़ रही है कि उन्हें रखने के लिए अस्पताल कम पड़ गए हैं. यहां तक की कुछ देशों में एहतियातन के तौर पर अस्थाई अस्पतालों की व्यवस्था की जा रही है. भारत में भी ट्रेन को अस्थायी आइसोलेशन वार्ड बनाने का कार्य शुरू कर दिया गया है. ऐसे में कई देशों में शिप, फुटबाल ग्राउंड तो कहीं पर बड़े-बड़े होटलों को अस्थायी अस्पतालों में तब्दील कर दिए गए हैं. जानिए कहां-कहां क्या हुए हैं  इंतजाम…

ब्राजील: यहां के सबसे टॉप के फ्लेमिंगो क्लब ने रियो द जेनेरियो स्थित मराकाना स्टेडियम को अस्थायी अस्पताल बनाने के लिए हेल्थ डिपार्टमेंट को सौंप दिया है.

ब्राजील के सबसे बड़े शहर साओ पाउलो में स्थित म्युन्सिपल स्टेडियम में 200 बेड वाला एक फिल्ड अस्पताल  तैयार किया जा रहा है.

बता दें कि यहां पर कोरोना के करीब 3477 केस सामने आ चुके हैं.  वहीं 93 लोगों की मौत हो गई है

अमेरिका: यहां की नेवी ने अपने दो जहाज कोरोना वायरस पीड़ितों के लिए दे दिए हैं.  इनमें से एक का नाम यूएसएनएस मर्सी (T-AH-19) है और दूसरे का नाम यूएसएनएस कंफर्ट (T-AH-19)है.

बताया जा रहा है ये जहाज समुद्री इलाकों के पास बसे लोगों के लिए सबसे नजदीक के अस्पताल के तौर पर काम करेंगे. इन दोनों जहाजों पर ऑपरेशन थियेटर तक की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाएगी.

जापान: यहां की एक फोर स्टार Ayre Gran Hotel Colón नामक होटल को भी पूरी रूप से एक अस्थायी अस्पताल में तब्दील कर दिया गया है. इसके 365 कमरों में अब कोरोना पीड़ितों को आइसोलन में रखा जाएगा.

बता दें कि अब तक जापान कोरोना के 1500 केस सामने आ चुके हैं.

ये भी जानें

इन सबके पूरे यूरोप में लगभग एक दर्जन अन्य होटल भी अब अस्थाई अस्पताल में तब्दील कर दिए गए हैं.

यूरोप की सबसे बड़ी hospitality company Accor ने अपने फ्रांस स्थित 40 होटल नर्सिंग स्टाफ के लिए दे दिए हैं.

वहीं दुनिया  सबसे बड़े क्रुज ऑपरेटर कार्निवल क्रूज लाइंस ने भी अपने कुछ जहाजों को कोरोना पीड़ितों को रखने के लिए देने का फैसला लिया है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.