सोने और चांदी के भाव के अनुपात में तोड़ा 5000 साल का पुराण रिकॉर्ड, सोने की कीमतों में 4 हजार रुपए प्रति दस ग्राम की गिरावट

नई दिल्ली : एन पी न्यूज 24 – कोरोना वायरस से दुनिया भर में हाहाकार मचा हुआ है। इसका असर अब सीधे तौर पर शेयर मार्किट और सोने की कीमतों पर दिखने लगा है। एक …

Gold

नई दिल्ली : एन पी न्यूज 24 – कोरोना वायरस से दुनिया भर में हाहाकार मचा हुआ है। इसका असर अब सीधे तौर पर शेयर मार्किट और सोने की कीमतों पर दिखने लगा है। एक तरफ शेयर बाजार धड़ाम हो रहा है तो दूसरी तरफ चांदी भी चमक खोती जा रही है। जानकारी के मुताबिक, सोने के भाव में भी चार हजार रुपए प्रति दस ग्राम की गिरावट आ गई है। जिसके बाद एक रिकॉर्ड बन गया है।

दरअसल सोने और चांदी ने भाव के अनुपात में पांच हजार साल का रिकार्ड तोड़ दिया है। एक किलो सोने में 122 किलो चांदी मिल रही है जबकि पांच हजार साल पहले एक किलो सोने में 2.5 किलो चांदी मिलती थी। एक रिपोर्ट के मुताबिक, 1750 ईसा पूर्व हम्मूराबी के काल में एक किलो सोने के एवज में छह किलो चांदी मिलने लगी। 560 ईसा पूर्व ग्रीस के महान शासक क्रोएसस को सोने-चांदी में निवेश करने की आदत थी। उसी काल में सोना-चांदी की सिक्के बाजार में लाए गए। तब दोनों धातुओं के बीच का अंतर 13 गुना हो गया था। जिसके बाद धीरे-धीरे दोनों धातुओं की अहमियत में बदलाव आते गए। सोना बेहद कीमती हो गया। यही वजह है कि बुधवार को एक किलो सोने का भाव 123 किलो चांदी के बराबर था।

जानकारों की मानें तो पिछले साल एक किलो सोने का भाव 80 किलो चांदी के बराबर था। यानी महज एक साल के अंदर चांदी ने एक किलो सोने की तुलना में अपनी चमक 43 किलो खो दी। ज्ञात हो कि गुरुवार को सोना 41 हजार रुपए प्रति दस ग्राम के स्तर को पार कर गया, जबकि चांदी 37 हजार रुपए किलो के आसपास चल रही है। बाजार में मांग न होने से चांदी की डिलीवरी चार दिन बाद हो रही है।

 

 

Leave a comment