फांसी नहीं टलने पर भड़के दोषियों के वकील, बोले- रात 12 बजे क्या कर रही थी निर्भया

नई दिल्ली : एन पी न्यूज 24 – 7 साल..3 महीने और 3 दिन बाद आखिकार आज निर्भया के चारों दोषियों को सुबह 5.30 बजे तिहाड़ जेल फांसी दे दी गयी। इससे पहले गुरुवार देर रात तक दिल्ली हाई कोर्ट से सुप्रीम कोर्ट तक दोषियों के वकील ने फांसी को टालने की पुरजोर कोशिश की। दिल्ली हाई कोर्ट से दोषियों को राहत नहीं मिली है, जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट में ये मामला सुना गया और 3:30 बजे फांसी की सजा को बरकार रखा।

फांसी नहीं टलने पर दोषियों के वकील एपी सिंह बुरी तरह भड़क गए।  फिर वो निर्भया और उसकी मां को ही भला बुरा कहने लगे। भड़के हुए एपी सिंह ने कहा कि ‘निर्भया की मां आशा देवी को क्यों पता नहीं था की रात के 12.30 बजे तक उसकी बेटी कहां थी। मां को यही पता नहीं था कि 12.30 बजे तक कहां है बेटी, किसके साथ है बेटी।’  एपी सिंह के निर्भया के खिलाफ इस तरह की बाते सुनकर उनके पीछे खड़ी महिला ने ही उन्हें जमकर फटकार लगाई और कहा ‘तुम्हें ऐसा बोलने की हिम्मत कैसे हुई? ऐसा क्यों कहा और रात के 12.30 बजे घर से बाहर रहने पर किसी के चरित्र का फैसला करने वाले तुम कौन होते हो।’

बता दें कि पीछे कुछ समय से एपी सिंह इस फांसी को लगातार टाल रहे थे। वो कोर्ट में कुछ न हथकंडे अपनाकर डेथ वॉरेंट को ख़त्म करता देते थे। लेकिन इस बार उनकी एक न चली और आखिकार निर्भया के चारों दोषियों को फांसी दे दी गयी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.