पिंपरी चिंचवड़ में भी ‘वाया दुबई’ दाखिल हुआ कोरोना

5 संदिग्धों में से पॉजिटिव मिले 3 मरीज; मनपा ने जारी की हेल्पलाइन

0
पिंपरीएन पी न्यूज 24 – पुणे के बाद अब दुबई मार्ग से पिंपरी चिंचवड़ शहर में भी कोरोना वायरस का संक्रमण दाखिल हो चुका है।शहर में कोरोना के पांच संदिग्ध मरीजों का मनपा के वाईसीएम हॉस्पिटल के आइसोलेशन वार्ड में इलाज जारी था। उनकी लार के नमूने जांच के लिए पुणे एनआईवी लैब में भेजे गए थे, जिसमें से तीन मरीज की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है। उनमेंं कोरोना के
सौम्य लक्षण पाए जाने के बाद भोसरी में मनपा के नए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जबकि अन्य दो संदिग्धों की रिपोर्ट निगेटिव मिलने से उन्हें डिस्चार्ज दे दिया गया है।
मनपा स्वास्थ्य विभाग की ओर से चीन व दूसरे ऐसे देशों, जहां कोरोना का संक्रमण हुआ है, से आये पिंपरी चिंचवड़ शहर के 31 यात्रियों का फालोअप लिया जा रहा है। 20 यात्रियों के फालोअप के 15 दिन पूरे हो चुके हैं। वाईसीएम हॉस्पिटल के आइसोलेशन वार्ड में पांच संदिग्ध मरीजों का इलाज चल रहा था। गत रात उनमें से तीन मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है। तीनों मरीजों की तबीयत स्थिर है। अब उनके हाई रिस्क कॉन्टैक्ट यानी 4 घण्टे से ज्यादा देर तक संपर्क में आये लोगों को खोजा जा रहा है।मनपा आयुक्त श्रावण हार्डिकर ने बताया कि, इन मरीजों को मिलाकर पुणे में कोरोना के मरीजों की संख्या अब आठ हो गई है।
मनपा आयुक्त ने संवाददाताओं को बताया कि, जिन जगहों पर कोरोना के मरीजों मिल रहे हैं, वहाँ के सर्वलेन्स के लिए 20 रैपिड रिस्पॉन्स टीमें गठित की गई हैं। मरीज़ों के लिए मनपा के वाईसीएम हॉस्पिटल में 10 बेड का आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है। यहां दो वेंटिलेटर भी अलग से उपलब्ध कराए गए हैं। इसके साथ ही भोसरी में मनपा के नए अस्पताल में 40 बेड्स का करोनो विलगीकरण शिबिर (Corona Quarantine Camp) तैयार किया गया है। आज रात तक इसका काम पूरा हो जाएगा। इसके बाद कोरोना के मरीजों का इलाज यहीं किया जाएगा। इसके अलावा शहर के 7 निजी अस्पतालों में 48 आइसोलेशन बेड्स एवं 7 वेंटिलेटर तैयार रखे गए हैं।
कोरोना के बारे में जानकारी के लिए मनपा की सारथी हेल्पलाइन 8888006666 और राज्य सरकार की हेल्पलाइन 104 नँबर पर संपर्क किया जा सकता है। कोरोना के मरीजों के नाम, रहने के स्थान समेत निजी जानकारी उजागर न करने करें, इसका उनके सामाजिक जीवन पर असर पड़ सकता है। अपने आप में कुछ बदलाव और प्रतिबंध से इस बीमारी का मुकाबला किया जा सकता है। मनपा आयुक्त ने लोगों से अपील की है कि, किसी भी अफवाह पर यकीन न रखें, न अफवाह फैलाएं। समय- समय पर हैंडवॉश करें, छींकते-खांसते वक्त मुंह पर रुमाल रखें, भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचें, फ्लू के लक्षण वाले लोग अपने घरों में ही रहें, स्कूल या कामकाज की जगह जाने से बचें और चिकित्सीय परामर्श लें। भीड़ जुटे, ऐसे आयोजन टालने और बेवजह मास्क का इस्तेमाल करना टालें।
Leave A Reply

Your email address will not be published.