अमेरिका में कोरोना वायरस के 8 केस सामने आए, हांगकांग जाने वाली सभी फ्लाइट्स ‘रद्द’

0

वॉशिंगटन : एन पी न्यूज 24 – चीन में पैदा हुए कोरोना वायरस ने दुनियाभर के लोगों में खौफ पैदा कर रखा है. क्योंकि धीरे-धीरे यह वायरस चीन के अलावा अन्य देशों में भी अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहा है. ऐसे में अन्य देशों ने इससे बचने के लिए सुरक्षा इंजाम अपनाना शुरू कर दिए हैं. अमेरिका में भी अब तक कोरोना वायरस के 8 केस सामने आ चुके हैं. इसके बाद अमेरिका ने अगली घोषणा न होने तक हांगकांग की उड़ान भरने वाली सभी फ्लाइट्स रद्द कर दी हैं.

अमेरिका के अलावा कई अन्य देशों ने भी चीन जानी वाली अपनी हवाएं सेवाएं अनिश्चित काल के लिए बंद कर दी हैं.

वहीं चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग चीन ने अमेरिका पर इस आपातकालीन स्थिति में चीन को मदद न करने और कथित वायरस को लेकर लोगों में ‘दशहत’ फ़ैलाने का आरोप लगाया है.

इसके जवाब में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि, “हम चीन की सरकार की मदद कर रहे हैं. हम कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए साथ मिल कर काम कर रहे हैं.”बता दें कि इस वायरस की वजह से चीन में अब तक करीब 490 लोगों की मौत हो गई है, जबकि लगभग 12,000 से अधिक  लोग इसकी चपेट में आ गए हैं. सिर्फ हांगकांग में ही कोरोना वायरस के 18 केसों की पुष्टि हुई है.

अमेरिकी सरकार द्वारा शुक्रवार को इस बीमारी को पब्लिक हेल्थ डिज़ास्टर घोषित किया है व दो सप्ताह में चीन की यात्रा करने वाले विदेशी नागरिकों के देश में प्रवेश पर अस्थायी प्रतिबंध भी लगा दिया था.

क्या है कोरोना वायरस और इसके लक्षण

कोरोना वायरस विषाणुओं का एक बड़ा समूह है, लेकिन इनमें से केवल छह विषाणु ही लोगों को संक्रमित करते हैं. इससे ग्रसित व्यक्ति को पहले सर्दी-जुकाम होता है, फिर बुखार आता है. इसकी वजह से सांस लेने में परेशानी होने से संक्रमित व्यक्ति की मौत हो जाती है.

‘सिवीयर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम’ (सार्स) ऐसा कोरोना वायरस है, जिसके कारण चीन और हांगकांग में साल 2002-03 के दौरान लगभग 650 लोगों की मृत्यु हो गई थी.

Leave A Reply

Your email address will not be published.