पिंपरी चिंचवड में दाखिल हुए मेट्रो के 6 कोच

ढोल- नगाड़ों की गूंज में किया गया स्वागत

0
पिंपरी : एन पी न्यूज 24 – श्रमिकों की नगरी, उद्योगनगरी के रूप में परिचित पिंपरी चिंचवड शहर को अब जल्द ही मेट्रो सिटी के रूप में भी पहचाना जाएगा। पिंपरी चिंचवड और पुणे शहर में संयुक्त रूप से चलाई जा रही मेट्रो परियोजना के तहत रविवार को महामेट्रो (महाराष्ट्र मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन) के छह कोच पिंपरी चिंचवड शहर में दाखिल हुए। निगड़ी के भक्ति शक्ति चौक में ढोल-नगाड़ों की गूंज में मेट्रो के पहले छह कोच का स्वागत किया गया। बता दें कि शहर में तीन कोच की एक मेट्रो ट्रेन होगी, यानी दो ट्रेनों के कोच शहर में दाखिल हो गए हैं।
पुणे मेट्रो परियोजना के तहत पिंपरी चिंचवड से स्वारगेट और वनाज से रामवाडी इन दो रूट्स पर मेट्रो परियोजना का निर्माणकार्य शुरू है। जून 2017 में महामेट्रो की ओर से इसका परोक्ष निर्माणकार्य शुरू किया गया है। मेट्रो ट्रेन के ट्रैक, पिलर्स, बिजली सप्लाई, सिग्नल जैसे कई काम तेज गति से शुरू है। तीस महीनों में इस परियोजना का काफी काम पूर्ण हुआ है। इसके बाद मेट्रो के लिए नागपुर से कोच लाये गए हैं। 22 दिसंबर को दो ट्रेनों के लिए छह कोच के दो सेट नागपुर से पुणे रवाना किये गए। आठ दिन के सफर के बाद ये कोच आज पिंपरी चिंचवड में दाखिल हुए हैं।
चूंकि पुणे में मेट्रो कोच के डिपो का काम अब तक नहीं हुआ है जिससे कोच में विभिन्न फिटिंग्स के लिए पुणे मेट्रो को नागपुर पर अवलंबित रहना पड़ रहा है। शुरू में लाये गए मेट्रो कोच के दो सेट में प्राथमिक टेस्टिंग, फिटिंग, रंगरोगन और इंटीरियर का काम पूरा करने के बाद इन कोचों को पुणे रवाना किया गया। मेट्रो कोच के हर सेट में तीन कोच हैं, जिनमें से एक कोच महिलाओं के रिजर्व रहेगा। एक मेट्रो ट्रेन में 950 से 970 यात्री सफर कर सकेंगे। यह पूरी तरह से वातानुकूलित कोच हैं जिसमें कई अत्याधुनिक सुविधाओं का समावेश होगा। तीनों कोच आपस में जुड़े रहेंगे जिससे यात्री एक कोच से दूसरे कोच में आसानी से जा सकेंगे। स्टेनलेस स्टील से बने कोच वजन में हल्के हैं जिसमें अत्याधुनिक एलईडी लाइट्स जोकि बाह्यप्रकाशा की तीव्रता के अनुसार ऑटोमैटिक कम ज्यादा प्रकाशमान होंगे। मेट्रो अधिकतम 90 किलोमीटर प्रति घन्टे की रफ्तार से दौड़ेगी, इसमें मोबाईल, लैपटॉप चार्जिंग सुविधा आदि मौजूद रहेगी।
visit : npnews24.com
Leave A Reply

Your email address will not be published.