रेल मंत्रालय का बड़ा साहसिक कदम ! सभी विभागों का विलय होगा, जाने पूरा मामला 

नई दिल्ली : एन पी न्यूज 24 – रेल मंत्रालय ने अपने सभी विभागों के विलय का एक बड़ा निर्णय लिया हैं।  मंत्रालय के इस फैसले के अनुसार इंडियन रेलवे सर्विस में अब केवल एक ही कैडर होगा। फ़िलहाल 8 कैडर है. इनमे मेकेनिकल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, स्टोर, पर्सनल, ट्रैफिक, सिविल इंजीनियरिंग सेवा के केदार शामिल है.

 

कैबिनेट को भेजा गया प्रस्ताव

 

इस प्रस्ताव में मेडिकल और रेलवे प्रोटेक्शन फाॅर्स को अभी भी स्वतंत्र रखा गया है. इसके अलावा रेलवे बोर्ड की संख्या 8 से घटकर 5 करने का फैसला लिया गया है. अब रेलवे ट्रैफिक, रोलिंग स्टॉक, ट्रैक्शन और इंजीनियरिंग को हटाकर ऑपरेशन, बिज़नेस डेवलपमेंट, ह्यूमन रिसोर्स, इंफ्रास्ट्रक्चर और फाइनेंस बोर्ड ही होगा।

 

चेयरमैन और रेलवे बोर्ड पर हो सकती है इनकी नियुक्ति

 

इस पद पर सिविल सर्विस या मार्किट से किसी एक्सपर्ट की नियुक्ति की जाएगी। लेकिन मंत्रालय के इस फैसले पर कुछ अधिकारियों ने सवाल खड़ा किया है.

 

टला वंदे भारत  का अगला प्रोजेक्ट

 

रेलवे के मैकेनिकल और इलेक्ट्रिकल विभाग के बीच विवाद की वजह से वंदे भारत का आगामी प्रोजेक्ट फ़िलहाल बंद कर दिया गया है. सरकार का यह कदम विभागीय मतभेदों को खत्म करने के लिए है.

 

इस साल अब तक 21 हज़ार करोड़ का घाटा

 

इस साल माल ढुलाई का कारोबार लक्ष्य से कम रहा. इस साल नवंबर तक इसमें 21,000 करोड़ का घाटा दर्ज किया गया है. अब रेल मंत्रालय रिफार्म लाकर इसमें सुधार का प्रयास कर रही है.
visit : npnews24.com
Leave A Reply

Your email address will not be published.