पादरियों ने किया 175 नाबालिगों का यौन शोषण : एक रिपोर्ट का चौंकाने वाला खुलासा

0

मैक्सिको सिटी: एन पी न्यूज 24 – रोमन कैथोलिक चर्च की मैक्सिको शाखा से संबंधित पादरी पर कई नाबालिगों के साथ यौन शोषण करने का आरोप लगा है, जिनमें लड़के और लड़कियां दोनों शामिल हैं. शनिवार को इस संदर्भ में प्रकाशित एक अंतरिम रिपोर्ट में इस चौंकाने वाले मामले का खुलासा हुआ है. रिपोर्ट में कहा गया है कि विभिन्न चर्चों के पादरी द्वारा कम से कम 175 नाबालिगों का लैंगिग शोषण किया गया है. हैरत की बात यह है कि लीगनरिज ऑफ़ क्राइस्ट के संस्थापक मार्शल मैसिएल ने ही लगभग 60 नाबालिगों का यौन उत्पीड़न किया था. इस रिपोर्ट के खुलासों ने सबको हिला दिया है साथ ही इसके बाद नाबालिगों की सुरक्षा पर सवालियां निशान खड़े हो गए हैं.

रिपोर्ट में साल 1941 से लेकर अब तक कुल 33 पादरियों द्वारा किशोर लड़कियों के साथ किए गए यौन उत्पीड़न का उल्लेख किया गया है. रिपोर्ट में साल 1941 से 16 दिसंबर 2019 तक नाबालिग लड़कों के यौन शोषण के विभिन्न प्रकारों की जानकारी दी गई है. रिपोर्ट में कहा गया है कि पीड़िटन में 11 से 16 साल की उम्र के किशोर लड़के भी शामिल हैं. मासूमों के साथ की गई इस घिनौती हरकत करने वाले कुल 33 पादरियों में से 18 पादरी अभी भी विभिन्न संगठनों में सक्रिय हैं. हालांकि, उन्हें जनता और नाबालिगों के संपर्क में आने से प्रतिबंधित किया गया है।

साल 2008 में मार्शल मैसिएल की मौत

बता दें कि लीगनरिज ऑफ़ क्राइस्ट के संस्थापक मार्शल मैसिएल पर नाबालिगों के साथ यौन उत्पीडन का आरोप लगने के बाद पोप बेनेडिक्ट ने साल 2006 में मार्शल को उसकी मृत्यु तक प्रार्थना के अधिकार से वंचित करने का आदेश दिया था. साल 2008 में मार्शल की मृत्यु हो गई थी. रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि मार्शल ने उन लोगों का कभी सामना नहीं किया, जिन्होंने उन पर यौन उत्पीडन आरोप लगाया था.

visit : npnews24.com

Leave A Reply

Your email address will not be published.